मंगलवार, 28 फ़रवरी 2017

01 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/09/yaden-2.html
02 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/09/yaaden-2.html
03 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/10/yaaden-3.html
04 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/10/yaaden-4.html
05 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/09/yaaden-5.html
06 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/10/yaaden-6.html
07 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/10/yaaden-7.html
08 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/11/yaaden-8.html
09 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/11/yaaden-9.html
10 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/11/yaaden-10.html
11 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/11/yaaden-11.html
12 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/11/yaadenmilk-powder-15.html
13 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/12/yaaden-13.html
14 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/12/yaden-14.html
15 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/12/yaaden15.html
16 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/01/yaaden-16.html
17 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/01/yaaden17.html
18 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/01/yaaden-18.html
19 - http://apnybaat.blogspot.in/2011/01/yaaden18.html
20 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/02/yaaden-22.html
21 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/01/yaaden21.html
22 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/02/yaaden-22.html
23 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/02/blog-post.html
24 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/03/yaaden-24-24.html
25 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/02/yaaden25.html
26 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/03/yaaden26.html
27 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/03/yaaden27.html
28 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/03/yaaden28.html
29 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/03/yaaden-29.html
30 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/04/yaaden-30.html
31 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/04/yaaden-30.html
32 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/04/yaaden-32.html
33 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/04/yaaden-32.html
34 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/04/yaaden34.html
35 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/05/yaaden35.html
36 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/05/yaaden36.html
37 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/05/yaaden37.html
38 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/05/yaaden-38.html
39 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/06/yaaden-39.html
40 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/06/yaaden-40.html
41 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/06/yaaden-41.html
42 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/06/yaaden-42.html
43 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/07/yaaden-43.html
44 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/07/yaaden-44.html
45 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/07/yaaden-45.html
46 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/07/yaaden46.html
47 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/07/yaaden-47.html
48 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/08/yaaden-48.html
49 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/08/yaaden-49.html
50 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/08/yaaden-50.html
51 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/08/yaaden-51.html
52 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/09/yaaden-52.html
53 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/09/yaaden-53.html
54 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/09/yaaden-
55 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/09/yaaden-55.html
56 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/07/yaaden-56.html
57 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/10/yaaden-57.html
58 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/10/yaaden-58.html
59 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/10/yaaden-59.html
60 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/10/yaaden-60.html
61 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/11/yaaden-61.html
62 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/11/yaaden-62.html
63 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/11/yaaden-63.html
64 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/11/yaaden-64.html
65 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/12/yaaden-65.html
66 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/12/yaaden-66.html
67 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/12/yaaden-67.html
68 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/12/yaaden-68.html
69 - http://apnybaat.blogspot.in/2012/12/yaaden-69_30.html

70 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/01/yaaden-70.html
71 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/01/yaaden-71.html
72 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/01/yaaden-72.html
73 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/01/yaaden-73.html
74 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/02/yaaden-74.html
75 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/02/yaaden-75.html
76 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/02/yaaden-76.html
77 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/02/yaaden-77.html
78 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/03/yaaden-78.html
79 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/03/yaaden-79.html
80 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/03/yaaden-80.html
81 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/03/yaaden-81.html
82 -  http://apnybaat.blogspot.in/2013/03/yaaden-82.html
83 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/04/yaaden83.html

85 - http://apnybaat.blogspot.in/2013/04/yaaden-84.html
86 -

https://www.youtube.com/user/314159265352?feature=

मंगलवार, 8 मार्च 2016

महिला दिवस

🌷
महिलाओं को मानित या अपमानित करने में, महिलाएं ही मुख्य होती हैं! पुरुष तो गौण होता है! स्वयं के चार उदहारण पेश हैं: - 
१- अक्तूबर १९८१को, मैं अपनी माताजी व पत्नी के साथ ससुराल गया था! मेरी सालेहारी उम्र में मुझसे छोटी है, रिश्ते में बड़ी है! मैंने हंसी मजाक में, उन्हें- "तू" 
बोल दिया! 
मेरी माता ने सबके सामने मुझे डाँटा-

तुझे शर्म नहीं आती, बड़ी सालेहार को तू बोलते हुए।



२- १९८४ में मैंने पत्नी को थप्पड़ मार दिया! छोटी बहिन शशि बोली- 
पिता जी को बताउंगी, कि भाई ने भाभी को मारा! 
हम दोनों अपना झगड़ा भूलकर उसे मनाने लगे:- 
पिताजी को मत बताना!

३- २००३ में हम दोनों में झगड़ा हो गया, छोटी बेटी स्वाति नें मुझसे कहा: - 
शादी ऐसी ही होती है, तो मैंने शादी नहीं करनी!

४- और अब अँतिम विनिश्चय! हम दोनों में झगड़ा हो जाने पर, जब भी पत्नी से पूछता हूँ:- 
नाराज़ हो क्या? 
हमेशा एक ही जवाब मिलता है:- न!

सोमवार, 7 सितंबर 2015

YAADEN 1 TO 100F100

scan0001.jpg१- १९४८
२-नानुवाला1952 
3 दादा 1954 
४-क्लेमscan0001.jpg
५- नेहरु शेख अब्दुल्ला कबायली
६-PANDIT ताराचंद जी
७-DADI
८-EK SHAM
९-OPEUM
१०-MARRIAGE
११-BUKHAR
१२-SCHOOL
१३-MANDIR 
१४-CINEMA
१५- खाला
१६-होलाष्टक
१७- op शादी petromax UNA
१८- lohari WAR
१९-बाल का गिलास RSN
२०- बलवीर सिंह दो बिल्लियाँ मोटाराम
२१- लाणा
२२-हरी हलवाई
२३- सहपाठी
२४- गुरमेल का मुक्का
२५-LACHHIWALA
२६-KANS
२७-CHUDIYAN
२८-जगरूप सिंह
२९-MONEYORDER
३०-सुजाता की KHIR

३१- उंगली
३२ आनंदस्वामी ऋषि
३३- जग्गो भाभी 
३४- कुंडा
३५-  सरदारा मिस्त्री
36गुरमेल तेजा बालसभा


३७ श्री राम

३८ केदार नाथ
३९ una 03.06,2012
४० radio 10.06.2012
४१ चंडीगढ़ 17.6,2012
 ४२ बुद्धराम राजी छल्लो सेवकराम रामसिंह कांता
४३ आरामशीन कशी सुथर मोहनी शामलाल

४४गुर्दित्तामल
४५फूटा
४६ BHANIYAWALA
४७ BHANIYAWAL FRIENDS
४८ BHANIYAWALA UP ROADWAYS
४९  BHANIYAWALA ELECTION

५० RETURN
५१ 25NP TEACHERS
५३ 25NP पदमकुमार शर्मा
५४ 25NP नरेन्द्र बिश्नोई
५५ 25NP साथी
५६ 25NP खाना
५७  25NP किकरवाली मोहनपुरा महियांवाली 
 ५८ 25N FOREIGN
९ 25NPRAMLILA


० मनोहर लाल की शादी
१- मन्नी वाली


२ ज्वालाजी, अमृतसर 
३ जम्मू पुष्प बुआ की शादी
४छोटे मामाजी की शादी
 CLASS IX 

७VIII
 ८class IX ADMISSION;
९-teachers PIC
७० SANATAN DHARM MA
७१- क्लास-मेट, ड्रामा
७२-सतीश वैश्य
७3
७४- BANGLADESH
७४-
७५-WAR 1971
७६- IX PASS
७७ SBI र 60,00,000/-
७८-वैद्यजी। केशर सिंह, सुरेश कुमार नानुवाला

७९-
८-EK SHMA


जय हिं





हिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 


५-

जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 

Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 http://www.apnykhunja.blogspot.com/; 
  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/; www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N
) सरदारा मिस्त्री
6गुरYAADEN (6) यादें (६२) मेल तेजा बालस
Ashok, Tehsildar  Srivijaynagar  9414094991

http://www.apnyvaani.blogspot

जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 

Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 http://www.apnykhunja.blogspot.com/; 
  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/; www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N
.com;
My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N
३- BEEDI, AAG

جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ
SHRADDH SURAMCHAND ZALIM LOSHAN VEDNA HAR RAS
CHANAN VAIDH AANDHIA BER MORPANKH BOOTARAM BABURAM NAKHUN PAR CHAMELI
KA TEL JOHAD KI KHUDAI 
-- GIRDAWAR TEHSILDAR ARAJI KASHT
Ashok, Tehsildar BHATTE WALA LHET GYANCHAND KOTHI COLD DRINK SANSI
KAPADIA
Hanumamgarh 9414094991
http://www.apnybaat.blogspot.com/ http://www.apnykatha.blogspot.com/ 
Ashok, Tehsildar Hanumamgarh ९४१४०९४९९१
 मैं
KUCHCH SAL PAHLE UNKA DEHANT HO GAYA. VE MUJHPAR CHHOTE BHAI JESA SNEH
> RAKHTE THE. VE VOLLYBALL KE KILADI THE. GAON KE SCHOOL ME BACHCHO KE
> KHEL SHURU KARAVANE ME UNKA YOGDAN RAHA HAI. OMPRAKASH JI AUR
> BHAIRARAMJI SE FIR KABHI MILNE KA SAUBHAGY NAHI MILA . CHOTHI PAS
> KARKE ME BHANIYAWALA CHALA GAYA THA US SAMAY TAK MERI LIKHAWAT ACHCHI
> NAHI THI. PATRA PAD N PANE K KARAN MERE BADE MAMA SWARGIYA VED PRAKASH
 JI NE MUJHE TOKA BHI THA.

Ashok, Tehsildar BHATTE WALA LHET GYANCHAND KOTHI COLD DRINK SANSI
KAPADIA
25NP के SCHOOL दिनों में नहर में नहाना, आँधियों में बेर और मोर पँख इकट्ठे करना, नहर में किसी का CYCLE और बस्ते समेत गिर जाना; या फिर CYCLE PUNCTURE होने पर भरी दोपहरी में घसीटते हुए, पसीने से तर-बतर, गिरते-पड़ते, भूखे-प्यासे देर से घर पहुंचना; ये सब मामूल वाक़यात होते थे। 
सर्दियों में माचिस साथ रखते थे; जिससे ज़रुरत होने पर आग ताप लेते थे। इस माचिस की वजह से कभी-कभी बीड़ी के सूटे भी होने लगे थे। गुरुजन को भनक लगने पर अलग विद्यालय के अलग कमरे में सबकी पेशी हुई; और ये दुर्व्यसन आगाज़ से पहले ही अंजाम तक पहुँच गया। गुरुजन के प्रति अगाध आदर की वजह से उनसे बड़ा डर लगता था कि ; हमारे आचरण के विषय में गुरूजी क्या सोचेंगे ! 
आजकल पढ़-सुनकर और देख कर अजीब सा लगता है; गुरु-शिष्य का स्नेह, आदर, विश्वास और उत्तरदायित्व कहाँ खो गया है ? भरत व्यास और कवि प्रदीप जी की पंक्तियाँ कचोटने लगती हैं -
 आज के इस इंसान को क्या हो गया ?
इसका पुराना प्यार कहाँ पर खो गया ??

Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 http://www.apnykhunja.blogspot.com/; http://www.apnybaat.blogspot.com/; http://www.apnyvaani.blogspot.com/; www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 17 अगस्त 2014

APRT टोंक में हमारी कक्षाएं व् कार्यालय  नीचे थे और व MAS व्यवस्था ऊपर थी; कुलदीप,  भानीराम, कृष्ण लाल पारीक, मनोहर लाल स्वामी,  गौरीशंकर,  ईश्वरलाल  मीना, लगभग 

रविवार, 10 अगस्त 2014

YAADEN (153) यादें (१५३)

APRT टोंक में अल-सुबह मुँह अँधेरे हुसैन खान जी PTI की WHISTLE बज जाती थी -

दौड़ते हुए, भागते हुए ! दौड़ते हुए, भागते हुए !!
मैंने बड़े-बड़े तहसीलदारों को सीधा कर दिया है! तुम तो गिरदावर हो !!
प्रशासनिक अधिकारी - कामयाबी के लिए दो बातें याद रखना-
जेब में PEN मत रखो !
दिमाग़ से काम मत लो !
ACCOUNTS OFFICER DR MAMODIAथे,
IRA मनमोहन लाल गोयल कहते थे - हम ACCOUNT वाले बड़ा ,मीठा-मीठा बोलते हैं; पर लिखते वक़्त कभी नहीं चूकते !
उनसे मैंने "निवेदन " शब्द के प्रयोग सीखा !
PRINCIPAL महेंद्र सिंह यादव, गंगानगर शुगर मिल महाप्रबंधक के पद पर चले गये और PD पालीवाल आये, KK सिंगल VICE-PRINCIPAL थे, जो बाद में श्रीकरणपुर SDM रहे थे; वे कक्षा में कुछ नया करवाते रहते थे; बंद पर्चियों में लिखना-
मुझ में क्या कमी है
दूसरों में क्या अच्छाई है;
मुझे दूसरों से क्या अपेक्षा है

PATWAR TRAINING SCHOOL में अध्यापन के दौरान मैंने भी ऐसे प्रयोग काफी किये थे !

LECTURER महेश चन्द्र गुप्ता जी का मुझ पर काफी स्नेह रहा था; कुछ वर्ष पूर्व वे अतिरिक्त महानिरीक्षक पंजीयन एवं मुद्रांक अजमेर के पद पर रहे हैं ! K रामबिहारी जी, सेटलमेंट ऑफिसर थे; उनके वाक्यों को मैंने अभी तक मन में रखा हुआ है-
NOT ONLY ACT;
BUT WITH TACT;
 AND WITHIN THE FACT !!



रविवार, 3 अगस्त 2014

YAADEN (152) यादें (१५२)

बाढ़ के इन हालात में ही दो सेक्शन में से हमारे वाले सेक्शन को 1 अगस्त १९८१ से दो माह के  FIELD-SURVEY के लिए निवाई भेजा गया; कृषि उपज मण्डी समिति की खाली दुकानों में हमने डेरा डाला ! जयपुर टोंक मुख्य सड़क के किनारे एक ढाबे पर हमने 5 रूपये प्रति व्यक्ति प्रति दिन (दोनों समय) की दर से भोजन व्यवस्था कर ली ! माधोलाल गुप्ता जी, हमारे SURVEY TEACHER थे !
उन दो महीनों में हम सभी पूरी तरह से घुल-मिल गये थे सुबह उठते ही निकल जाते, दोपहर तक ज़रीब चलाते, FIELD-BOOK बनाते; फिर होटल जाकर खाना खाते वापस आवास पर आकर  PLOTTING करते, नक्शा बनाते, नंबर-अंदाज़ी करते, रकबा-बरारी करते और फिर  फिर एक दूसरे से नक़्शे और क्षेत्रफल का मिलन करते; और अपनी-अपनी गलतियां ढूंढते !
बाढ़ पीड़ितों की सहायतार्थ राजस्थानी लोक गायक गणपत लाल डांगी और मीना चौधरी का कार्यक्रम निवाई में आयोजित हुआ था ! राजस्थानी लोक-कार्यक्रम पहली बार मैंने देखा था !-
मोरिया आच्छो बोलयो ए ढळतीरात ने !

जय جیہینहिंदڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 27 जुलाई 2014

YAADEN (151) यादें (१५१)

बुद्धवार 27/05/1981 को मैं रायसिंह नगर तहसील में उपस्थित हुआ; सुगन चंद आर्य, तहसीलदार, बग्गा सिंह नायब तहसीलदार, मंशा सिंह Office Quanoongo, जेठमल सेठिया और बलदेव सिंह Leave Rreserve Patwari थे; जेठमल मेरे पूर्व परिचित थे; कुछ अन्य पटवारी GKS बैंक के समय से मेरे पूर्व परिचित थे; उदयवीर सिंह चौहान संगराना, होशियार सिंह भोमपुरा गिरदावर थे; ये दोनों आज भी मेरे साथ बड़े भाई जैसा ही व्यवहार करते है;  जिलेदार दफतर विजय नगर की तरह ही मैंने तहसील रायसिंह नगर में भी खूब मन लगा कर काम सीखा !       शनिवार 04/07/1981 को रायसिंह नगर से कार्यमुक्त होकर सोमवार 06/07/1981 को मैं APRT टोंक पहुँच गया !
वहाँ हमारे दो SECTION  बना दिए थे;

जय جیہینहिंदڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 20 जुलाई 2014

YAADEN (150) यादें (१५०)

सीधी भर्ती ILR के कुल ५९ में से ७ पद राजस्व विभाग के पटवारियों के लिए आरक्षित थे; बातचीत में पता चला कि उन 7 को पूरा वेतन मिलेगा ! बाकी ५२ को र ७५ मासिक दर से निर्वाह भत्ता मिलना था ! हमने हिसाब लगाया, तो पता चला कि कुल 36 पटवारी राजस्व के, रामस्वरूप अरविन्द कोटा CAD से, फ़क़ीर मोहम्मद उपनिवेशन बीकानेर से, और मैं सिंचाई श्रीगंगानगर से  कुल ३९ पटवारी आ गये थे;
हमें ये नागवार लग रहा था कि जो आरक्षण से 7 लोग आये हैं , वे तो पूरा वेतन लें और जो 32 अपनी मेहनत से आये है, वे वञ्चित रहें ! 8 अगस्त, 1981 को टोंक में, बाढ़  का दौरा करने आये, राजस्व मंत्री परसराम मदेरणा से हम मिले;
मुझे एक-एक शब्द याद है , उन्होंने कहा -
TODAY IS SUNDAY TOMORROW I SHALL CALL YOUR FILE !
और 11 अगस्त, !९८१ को राजस्थान भू राजस्व (भू-अभिलेख) नियमावली १९५७ के नियम २९५ में संशोधन की अधिसूचना जारी हो गई, जिसका एक-एक शब्द मुझे आज भी हू-बी-हू याद है  _
PROVIDED THAT, IF A PATWARI WHO IS SELECTED FOR QUANOONGO TRAINING SCHOOL & JOINS THE SAME, SHALL BE TREATED AS ON DUTY & SHALL RECEIVE HIS SALARY DURING THE PERIOD OF TRAINING

जय جیہینहिंदڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 13 जुलाई 2014

YAADEN (149) यादें (१४९)

जुलाई/अगस्त 1981 में राजस्थान के 5 नये जिलों- धौलपुर, दौसा, राजसमंद, बारां हनुमानगढ़ की
घोषणा हुई; जगन्नाथ पहाड़िया ने राजस्थान के मुख्य मंत्री पद से त्याग-पत्र दिया; और शिवचरण माथुर मुख्य मंत्री के साथ परसराम मदेरणा, श्रीमती कमला बेनीवाल, और ने मंत्री पद की शपथ ली; ज़बरदस्त बरसात हुई; अमानीशाह नाला, बनास, चम्बल  और अन्य नदियों में बाढ़ की स्थिति बन गयी; जयपुर, टोंक, सवाई माधोपुर, अलवर, भरतपुर, करौली, कोटा, अजमेर आदि पूर्वी दक्षिणी राजस्थान में कई दिनों तक अधिकांशतः यातायात और सञ्चार ठप्प रहा था ! टोंक के निचले इलाकों से लोगों को हटाकर APRT में बैठाया गया ! खाना बनाने वाले हलवाई लगे हुए थे; तहसीलदार टोंक एक बुज़ुर्ग व्यक्ति थे; हम उनसे बात करने लगे, तो मजाक में बोले- RETIRE होकर HOTEL खोलूंगा !
मंत्री परसराम मदेरणा और कमला बेनीवाल दौरा करने आये थे;
पहाड़िया सरकार के घोषित 5 में से, माथुर सरकार ने केवल एक धौलपुर को ही, 27वां जिला बनाया था !


जय جیہینहिंदڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 6 जुलाई 2014

YAADEN (148) यादें (१४८)

सोमवार, 25 मई १८८१ को मैंने APRT (All Purpose Revenue Training ) school टोंक में उपस्थिति पेश की  महेंद्र सिंह यादव Principal थे; सबसे पहले बनवारी लाल से मेरी मुलकात हुई, जो टिब्बी के हैं; वहीँ पर मैंने कुलदीप सिंह को देखा, जिनका पता उदयपुर था; काली pent, सफ़ेद bush-shirt बिलकुल पदमकुमार जी वाला पहनावा; भरा चेहरा और हलकी दाढ़ी; प्रथम दृष्टि में, मैंने उन्हें उदयपुर का कोई राजपूत लड़का समझा था;   बनवारी ने ही मुझे बताया कि वह मसानीवाला (तहसील टिब्बी) का जटसिख है; और बनवारी का class-fellow था; हम तीनों एक ही जिले के हो गए (हनुमान गढ़ जिला नहीं था) कुलदीप उस समय मावली तहसील में राजस्व पटवारी था;  बनवारी वन विभाग चुरू में था; 
APRT में नज़ीर अहमद बाबू थे ! उसी दिन मुझे रायसिंह नगर, बनवारी को टिब्बी और कुलदीप को वल्लभनगर तहसील ट्रेनिँग के लिए भेज दिया ! 
वापस जयपुर देर से पहुँचने के कारण  शाम 6 बजे श्रीगंगानगर वाली गाड़ी की बजाय रात को बीकानेर express पर चलकर 2.30 बजे चुरू आकर मैं बनवारी के पास ही  रुका; सुबह रेल से सादुलपुर, हनुमानगढ़ और रात 11 बजे रायसिंहनगर !            




जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;

My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 29 जून 2014

YAADEN (147) यादें (१४७)

नहरी पटवारी बनने के बाद पहले साल 1978-79 में मैंने ७१% दुसरे साल 1979-80 में 94 % और तीसरे साल 1980-81  में 97% वसूली की; मई 1981 की एक दोपहरी में ढाणी-ढाणी  घूमता हुआ 4STB में पिरथी सिंह की ढाणी पहुंचा, तो मेरे चाचा बालकृष्ण जी वहां आये हुए बैठे थे; उन्होंने मुझे डाक दी; जिसमें मेरे निरीक्षक भू-अभिलेख पद के लिए चयन होना तथा २५/०५/१९८१ को सर्व उद्देशीय राजस्व प्रशिक्षणालय टोंक में उपस्थित होने का आदेश था; यह मेरे लिए बिलकुल अप्रत्याशित था; क्योंकि जून १९७९ में होने वाली परीक्षा सितम्बर १९७९ में हुई थी; और मेरा आकलन था, कि 1979 में ही चयन आदि होकर नियुक्ति हो चुकी होगी; और मेरा चयन नहीं हुआ होगा; पर हकीकत ये बनी, कि हमारी 59 पदों की रिक्तियां 50% सीधी भर्ती और शेष ५०% राजस्व पटवारियों से पदोन्नति की गणना से निकली थीं; उसके बाद पटवार संघ की मांग पर राज्य सरकार ने 20%सीधी भर्ती, 15% पटवारियों की विभागीय परीक्षा और  65% पटवारियों की पदोन्नति मान ली थी; इस चक्कर में हमारी रुक गयी कि इसे भी 50 से घटाकर 20% किया जावे या नहीं ?


जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 22 जून 2014

YAADEN (146) यादें (१४६)

नहरी पटवारी रहने के दौरान ही बद्रीराम जी की लड़की की शादी थी; वे एक महीने की छुट्टी गये, उनका कार्य भार मेरे पास था; एक दिन थैले में 4 रसीद बुक मेरी और 5 बद्री जी की लेकर मैं वसूली कर रहा था; 2STB से गुलजारा सिंह भंगू का MESSY ट्रेक्टर ट्राली खिचियाँ (सरदार पूरा बीका) जा रहा था; उनका लड़का सुखदेव चला रहा था; मुझे भी उधर जाना था; मैं ट्रेक्टर के MUD-GUARD पर बैठ गया; उस वक़्त 6STB से वाली सड़क बन रही थी; रास्ते में थैला टेढ़ा हुआ और 9 रसीद बुक गिर गई; लगभग २ किलोमीटर में ही मुझे पता चल गया; सब पर मोटे गत्ते की ज़िल्द चढ़ी हुई थी; और सारे रास्ते में सड़क का काम चल रहा था; इसलिए मेरा अनुमान था कि उड़ भी नहीं सकती और गायब भी नहीं हो सकती; TROLLY खोलकर हम TRACTOR से वापस आये, खूब पूछताछ की, किन्तु किसी ने कुछ नहीं बताया;
फिर मैं और बद्री जी दोनों दो-तीन दिन ऊँठ चढ़ कर ढूंढते रहे; 8STB कुलड़ियों की ढाणी भी रात रुके थे; उस दिन वे गंगूवाला नंदराम गोदारा (प्रधान पंचायत समिति रायसिंहनगर ) के घर से शादी करके आये थे;
रसीद बुकें नहीं मिली; मैं हर महीने चकवार बकाया की सूचियां बना लिया करता था; साथ के साथ उनमें वसूली दर्ज भी करता रहता था; उन्हीं सूचियों से रोकड़ बही पूरी करके, मैंने रकम जमा करवा दी; और हिम्मत करके १००% प्रतिशत वसूली कर दी ताकि, मेरे ऊपर गबन का इलज़ाम न लग सके;

जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 15 जून 2014

YAADEN (145) यादें(१४५)

चक 2STB में Justice जवान सिंह राणावत परिवार की 14 मुरब्बे ज़मीन करणपुर, पदमपुर, श्रीगंगानगर के सरदारों ने 12 लाख रुपये में खरीदी थी; गुलजारा सिंह भंगू  6NN (पदमपुर), उनके पुत्र सुखदेव सिंह, और दामाद निरंजन सिंह निज्जर 9Z (श्रीगंगानगर), और उसके छोटे भाई जसवीर सिंह (राणा) से मेरा अच्छा परिचय हो गया था; बाद में जब मैं श्रीगंगानगर और पदमपुर रहा, तो भी संपर्क बने रहे; निरंजनसिंह से तो गहरे सम्बन्ध हो गये; उनके सभी पारिवारिक मसलों में भी वे और उनकी माता मुझसे अक्सर सलाह लेते रहे है; फिर आगे उनके बेटे हरपिंदर (Happy) के ससुराल जगतार सिंह 34GG, उनके बेटे हरदीप सिंह से भी अच्छी मेल मुलाकात रहा है;
निरंजन सिंह और भाभी जी; अमेरिका अपनी बेटी के पास चले जाते हैं ; तो भी फोन पर अक्सर सलाह करते रहते हैं;

जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N34GG 

रविवार, 8 जून 2014

yaaden(144) यादें(१४४)

अप्रैल १९८१ में ACCIDENT के बाद मई में यमुना नगर पत्नी के ममेरे भाई गुलशन कुमार ढल कि शादी थी; ससुराल के परिवार के साथ  गया था; बारात जगाधरी गयी थी; यमुना नगर , अम्बाला रिश्तेदारों से मिलने के बाद हम सब सरसावा (सहारनपुर) हरीश सोनी (गुलशन के जीजा) के घर,  हरिद्वार, ऋषिकेश, भानियावाला, डोईवाला, मसूरी होते हुए घर लौटे थे !

जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 1 जून 2014

YAADEN (143) यादें (१४३)

दिनाँक १ अप्रैल, १९८१ रविवार प्रातः लगभग ५ बजे देवराम बावरी हमारे घर आया और कहा कि मंगलगढ़ FARM से बड़े भाई को लेकर आना है; हमारे साथ उनके परिवार का मेल-जोल था; मेरे पास JAWA MOTOR CYCLE RRK 2299 था; वह मेरे पीछे बैठ गया; हम नानूवाला कोठी से आगे दक्षिण दिशा को  35NP के पास पहुंचे,  तो सामने से एक ऊँठगाड़ी आ रही थी, चालक ने ऊँठ कि मोहरी छोड़ी हुई थी, खुद गाड़ी में आराम से लेटा था; मुझे अहसास हुआ कि ऊँठ बिदक सकता है; मैंने MOTORCYCLE की गति बिलकुल कम कर ली;  जैसे ही हम ऊँठ गाड़ी के बराबर से गुजरने लगे , बिना मोहरी के ऊँठ पश्चिम को घूम गया; ऊँठ गाड़ी के बिड से मेरी दाहिनी कोहनी पर धक्का लगा, और गति कम होने के कारण मोटरसाइकिल समेत हम बाईं तरफ पूर्व दिशा में पलट गये; सड़क के किनारे उस स्थान पर पत्थर की गट्टी का ढेर था; मेरे चेहरे का बाँया भाग पत्थरों पर टिक गया; गति कम होने के कारण MOTORCYCLE बंद हो गया; हम दोनों के वज़न  के साथ MOTORCYCLE का वज़न का भार भी मेरे चेहरे पर पड़ गया; हमने ऊँठ गाड़ी वाले को आवाज़ें लगाई, उसने वापस आकर हमें उठाया; इतना होने पर भी मैं MOTORCYCLE चला कर मंगलगढ़ चला गया, वापसी पर हम तीन आये, 
लगभग १० बजे वापस घर पहुंचे, तब तक मेरे चेहरा सूज गया था; पिताजी और चाचाजी तुरंत रायसिंहनगर  लेकर गये; तो पता चला कि बाईं आँख में घाव हो गया था और उसके नीचे वाली बाएं गाल कि हड्डी भी टूट गई थी; डाक्टर राजपाल कुक्कड़ के अस्पताल में कई  दिन भर्ती रहा, आँख में भी  INJECTION लगते थे; 
उसी दरम्यान करणपुर ओम के पिताजी का देहांत हो गया, पर ये बात मुझे नहीं बताई गई; 
जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 25 मई 2014

YAADEN (142) यादें (१४२)

९ फ़रवरी १९८१ को श्री ओमप्रकाश जौहर  शादी थी; ससुराल में सबसे ज्यादा पूछ मेरी  होनी थी; उनके सारे रिश्तेदार कानपूर,  अम्बाला, यमुनानगर, कानपुर , दिल्ली से जो भी आये थे, मुझसे सभी हिलमिल के मिले, खूब उधम-धमाल हुआ, उन सबमें VIP मैं ही था; वैसे भी मेरी शादी के बाद ससुराल में पहला कारज था; उन सबसे मेरा झगड़ा एक ही बात पर होता था, कि वे अपनी और से जब मान-सम्मान स्वरूप रुपए देते थे तो मैं  लेता था, वे से मेरी शिकायत करते थे- आपका जवाई कैसा है ? शगुन  लेता !
वे भी नाराज़ ! मैं भी नाराज़ !! और मेरे सास-ससुर जी भी नाराज़ !!!
खैर कुल मिलकर बड़ा मज़ा आया;
बारात गंगानगर में आदर्श सिनेमा के पास स्वामी-समाज सभा कि धर्मशाला में ठहरी थी; श्री सत्यपाल असड़ी के निवास  86G राजकीय आवास में ढुकाव हुआ; और दूसरे दिन हम डोली लेकर घर रायसिंह नगर आ गये !
जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 18 मई 2014

YAADEN (141) यादें (१४१)

4BLD में गुरमेल सिंह बराड़ के पास scooter Lamby 150 था; जिसका उसने उपवैद्य सतनाम सिंह चावला के JAWA motorcycle के साथ तबादला कर लिया था; गुरमैल से मोटरसाइकिल RRK 2299 मैंने खरीद लिया था; उस समय तक जावा बंद होकर COMPANY ने Yezdi चला दिया था;
लगभग उन्ही दिनों मैंने शंकरलाल खीचड़ से एक national Panasonic tape-recorder R ३०००/- में खरीदा ; फिर मैंने एक Loud-speaker सेट भी R १३००/- में खरीदा; जब sky-lab गिरना था; और एक दो बार सूर्य-ग्रहण, चन्द्र-ग्रहण पर मैं अपनी छत पर लगा कर भजन बजाता था;
जग देया चन्नणा तू मुख लुका वे,
बाबा राम देव जी ओ थाने खम्मा घणी,
मैं तो आरती उतारू ऐ संतोषी माता;
०१/०४/१९८१  को road-accident होने के बाद माँ-बाप ने मुझे motor-cycle नहीं चलने दिया; ताराचन्द मुनीलाल वाले शांति स्वरुप अग्रवाल (बँसल मेडिकल स्टोर रायसिंह नगर ) का लड़का गोविन्द उस समय हमारे घर रह कर गाँव में डाकटरी का काम करता था; motorcycle  दिया; ये LOUD-SPEAKER Set मैंने एक दो साल रख कर नानुवाला मंदिर में दे दिया था;

जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 11 मई 2014

YAADEN (140) यादें (१४०)


समय  से पहले और भाग्य से अधिक नहीं मिलता; इसका प्रत्यक्ष अनुभव हुआ; 1980 के दशहरे और दीपावली के बीच, काँगड़ा से  मित्र सतीश कुमार सूद आये,  उनके पिता जगतराम के नाम 3STB में मुरब्बा 210382 का कुछ झगड़ा था; हम दोनों रायसिंहनगर AMBIKA IRON STORE पर गये, हमारी खरीददारी के दौरान ही, कोई AGENT आया और दीपावली की भेंट स्वरुप दुर्गा माता का प्लास्टिक फ़ोटो दुकान पर दे गया; मुझे वह चित्र बहुत पसन्द आया, मैंने मांग लिया, और मोहनलाल गर्ग ने भेंट मुझे दे दी; वापस नानूवाला आ  गए, दुसरे दिन सुबह हमने अनूपगढ़ जाना था; घर से चलने लगे तो वह चित्र सतीश ने मांग लिया और मैंने दे  दिया; अनूपगढ़ दिन में काम करके, हम दोनों घड़साना की बस में रवाना होकर 6P के अड्डे पर उतरे फ़ोटो तो सतीश जी ने उतार लिया, पर मेरा स्वेटर बस में ही चला गया; वहाँ से हम दोनों पैदल पण्डित बक्शी राम जी की ढाणी  अँधेरा होने पर पहुँचे, पण्डित जी का लड़का अशोक उस वक़्त बीकानेर पढ़ता था; रात वहाँ रुककर सुबह जब चलने लगे; तो सतीश जी ने फ़ोटो और स्वेटर की कहानी पंडित जी को सुनाई; उन्होंने फ़ोटो देखी, और मांग ली !

जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 4 मई 2014

YAADEN (139) यादें (१३९)

ओम ठेकेदार ने हमसे ब्याज़ पर रकम ली; बाद  काम बढ़ाने का कह कर उसने  हमारी २५% साझेदारी की बात कह कर और रकम ली; मेरे  जोर देने पर पिताजी मान गये; उसी दरम्यान सुखपाल सिंह निवासी 3W करणपुर भी साझेदार बना; शायद २९ अगस्त, १९८१ को मेरे मोटरसाइकिल, RRK 2299 पर 3W गये, उस समय रायसिंह नगर-गजसिंहपुर-करणपुर सड़क नहीं थी; हमें पदमपुर-करणपुर -केसरीसिंहपुर होकर जाना पड़ा था; मुझे अच्छी तरह से याद है, उन्होंने नई फूलगोभी की सब्ज़ी बनाई थी; पर अभी २०१३ में सितम्बर में भी गोभी बाज़ार में नज़र नहीं आई;
एक दो बार वह भी हमारे घर रुका था; कुल मिलाकर ओम के साथ साझेदारी हमें फलदाई नहीं  हुई;और हमारी  डूब  गई; दो-चार बार हम दोनों बाप-बेटा बल्लेवाला उसके घर भी गये; पर कोई फायदा नहीं हुआ; उसने एक गाय दी, न तो उससे लेनदारी चुकता हुई, न ही हमारे लिए लाभदायक हुई; शायद वह खुद तपैदिक रोगी था; बाद में उसकी मृत्यु हो गयी थी; मुझे आज भी उसकी हालात का दुःख है; और मानता हूँ कि; हमें उससे गाय नहीं लेनी चाहिए थी !   
जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 27 अप्रैल 2014

YAADEN (138) यादें (१३८)

१९७७ में जब मैं और ओम सतजंडा में सुखदेव सिंह जी के पास training में थे, तो बल्लेवाला (38NP) निवासी ओमप्रकाश बिश्नोई सुथार, और उसका छोटा भाई, अक्सर आते रहते थे; वे दोनों चिनाई के कारीगर थे; बाद में पड़ौसी गाँवो के निवासी होने से वह यदा-कदा हमारे घर भी आने लगा था; उसने 25PS में पक्का खाला बनाने का ठेका लिया, मैंने उसकी सिफारिश करके पिताजी से उसे कुछ रकम उधार दिलवा दी; मैं जब कभी रायसिंह नगर जाता तो, उसका काम देखने भी चला जाता था;  दादा गुरदीत्तमल जी के लड़के जगदीश को भी हमने उसके साथ कर दिया था;
उसी जगह काम करने वाले बाहर से आये एक मिस्त्री ने अपना सोना बेचने कि पेशकश की; मैंने सुनार से जाँच करवाकर वो सोना खरीद लिया; कुछ पैसे ताराचंद मुनीलाल वाले मोहन लाल जी से और कुछ पैसे बजरंगलाल सतयनारायण वाले सत्यनारायण से लेकर और कुछ पैसे मैंने अपने पास से कुल   R ५५००/- उसे दे दिये, बाकी सात-आठ सौ रूपए कुछ दिन बाद देने का वायदा किया; हालाँकि जगदीश ने मुझे आगाह भी किया कि, जो सोना हमने TEST करवाया था, उसने उसे बदल कर दे दिया  है; पर मैंने इसे जगदीश का वहम माना; मैं ताराचंद मानमल जौड़ा कि दुकान पर गया; मानमल जी ने बताया कि सोना नकली है;
 ये वर्ष १९७८ या १९७९ दीवाली का दिन था, जब वणिक-पुत्र इस दिन कुछ कमाकर घर में लाते है; मैं ५५००/- यानि कि मेरी एक वर्ष से ज्यादा की कमाई लुटाकर घर आया था;
मुझे अच्छी तरह से याद है, वह कथित सोना, कपडे के थैले में, उसके ऊपर सेव, साइकिल की टोकरी में डालकर मैं घर लाया था;
जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 20 अप्रैल 2014

YAADEN (137) यादें (१३७)

श्री ओमप्रकाश-निशिबाला कि सगाई के कुछ दिन बाद मैं अपनी सास श्रीमती शीला देवी और साली प्रमिला के साथ श्रीगंगानगर शगुन देने गया था; उस समय तक जवाहर नगर नहीं बना था; इंदिरा कॉलोनी से दक्षिण दिशा, वर्त्तमान  UIT सामुदायिक केंद्र, खुराना होटल, गर्ग हॉस्पिटल आदि जगह पर बेरी का बाग़ था; वर्त्तमान सुखाडिया मार्ग की मिटटी डल रही थी; SD COLLEGE /SCHOOL से दक्षिण-पूर्व भी लगभग खाली था; बिहाणी पेट्रोल पम्प के दक्षिण दिशा वाली गली से हम रिक्शा पर कपूर साहब के घर ४४ तिलक नगर गये; उस समय नाम और नंबर नहीं थे; एक दो घर छोड़ कर तिलक नगर कि बसावट नहीं हुई थी;
हम इंदिरा कॉलोनी गये वहाँ मेरे साथ मज़ाक हुआ; मेरे लिए पीने का जो पानी आया, उसमें बहुत सारा नमक घुला हुआ था, मैंने ने नहले पर दहला जड़ दिया और शांति से पानी पी गया; पानी देने वाले हैरान/ परेशान  हो गये कि नमक वाला पानी किसी दूसरे के पास चला गया; भाभी जी कि बड़ी बहिन श्रीमती ऊषा तुली ने मुझसे पूछा जीजाजी पानी और लाऊँ ? मुझे पक्का यकीन हो गया कि नमक इन्होंने ही मिलाया है; शादी के कुछ साल बाद पता चला कि वह भाभी जी की सहेली सोमा की शरारत थी;


जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 13 अप्रैल 2014

YAADEN (136) यादें (१३६)

जुलाई १९८० में मेरे बड़े साले श्री ओमप्रकाश जौहरकी सगाई, श्रीगंगानगर इंदिरा कॉलोनी गली नम्बर ९, मकान नम्बर १४१, निवासी श्री रल्ला राम असड़ी की  सबसे छोटी पुत्री निशीबाला के साथ हुई थी; वह खुद और बनारसी दास जी मल्होत्रा के पुत्र श्री अनिलकुमार  मुझे लेने आये थे, उनकी जीप का नम्बर मुझे याद है- ४९९४; स्वर्गीय श्री श्रीराम कपूर ने रिश्ता करवाया था; इन दोनों परिवारों के साथ मेरी पहली मुलाकात उस वक़्त रायसिंहनगर ससुराल में ही हुई थी;
बाद में इन दोनों परिवारो के साथ मेरा अच्छा मेल-मुलाकात रहा; मेरे साले के सास-ससुर नेकदिल मिलनसार थे, उनके बड़े पुत्र श्री सत्यपाल असड़ी कलक्टरेट श्री गंगानगर से कार्यालय सहायक के पद से सेवा निवृत हुए, अक्तूबर २००७ में उनका दिल्ली में देहांत हुआ; बड़ी पुत्र-वधु श्रीमती कैलाश असड़ी राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय श्रीगंगानगर (मटका चौक) में वरिष्ठ अध्यापक के पद से सेवा निवृत हुई; एक विशेष बात ये कि दोनों पति-पत्नी एक ही दिन ३० जून को सेवा निवृत हुए थे; वे अब अपने पुत्रों के पास दिल्ली/ मोहाली/ श्रीगंगानगर रहती हैं ;

जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 6 अप्रैल 2014

YAADEN (135) यादें (१३५ )

ओम व उसके परिवार के साथ हमारा सम्पर्क लगातार पहले जैसा बना रहा; उसकी शादी में मैं दो-तीन दिन करणपुर रुका; उसकी छोटी बहिन नर्मदा और भाई मदन की शादी में भी ऐसा ही हुआ; उनका पैतृक गाँव रेवाड़ी के पास डहीना जैनाबाद है, तीनों रिश्ते भी उधर ही किये; उसके ससुर उस समय धरांगधरा (गुजरात) में नौकरी करते थे; हमारे घर नानूवाला भी उनके परिवार का खूब आना-जाना लगा रहता था;  मई १९८० में मेरी छोटी बहिन सरोज कि शादी हुई ; उसका FURNITURE हमने उनसे ही बनवाया था; करणपुर से मैं ऊँठगाड़ी में लादकर नानूवाला लेकर आया था;  

ओम नहाने के लिए, पहले बाल्टी में गर्म पानी डालता, और बाद में ठण्डा मिलाता ! मेरी विचारधारा  उलट है, कि गर्म पहले डालने से तेज वाष्पन  तापमान  जल्दी और ज़यादा कम होगा;  पर भौतिक-शास्त्र  Physics के सिद्धांत से उसकी  सोच भी सही  है, गर्म पानी हल्का होने से ऊपर रहेगा, और नीचे बाल्टी में पानी ठण्डा रह जायेगा ! 


लगभग उन्हीं दिनों उसके पिता रामचंद्र जी को गले की बीमारी हो गयी थी; बीकानेर PBM में इलाज चलता था; अप्रैल १९८१ में उनका देहांत हो गया; उस समय मैं ROAD ACCIDENT के कारण रायसिंहनगर  भर्ती था; मुझे किसी ने नहीं बताया;  

जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, 
r ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N


रविवार, 30 मार्च 2014

YAADEN (134) यादें (१३४)

हमारे बाद जगदीश प्रसाद की नियुक्ति भी पूर्व खण्ड में हुई; विजयनगर ज़िलेदारी में कुल ११ पटवारी हो गये, नई  हल्क़ा-बंदी में चक 1BLD, 2BLD, 2BLDA जगदीश के पास चले गये, 3BLD व 5STBA मेरे पास नये आ गये, मेरे हलके का नाम बदलकर 4BLD प्रथम, और जगदीश वाले का नाम 4BLD द्वितीय हो गया; 268RD ज़िलेदारी में जगदीशचन्द्र बिश्नोई और ओमप्रकाश यादव नये पटवारी लगे,   मेरे प्रशिक्षण-काल के साथी, ओमप्रकाश शर्मा की नियुक्ति RCP में नहीं हो सकी, उसने हरयाणा में भी प्रयास किया था; फिर बाद में उसकी नियुक्ति राजस्थान में ही उनियारा जिला टोंक CAD में हो गयी थी; एक दो साल प्रयास करके उसने GANG-CANAL में करणपुर स्थानांतरण करवा लिया; 2001-02 में सिंचाई विभाग के  पटवारी, जिलेदार, DC  के पद समाप्त करके इन्हे राजस्व-पटवारी, जिलेदार, नायब तहसीलदार  के रूप में समायोजित किया गया; बाद में फिर सिंचाई विभाग में पद सृजित करके वापस भेजा गया; कुछ इधर रह गये, कुछ उधर चले गये;  


जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N






रविवार, 23 मार्च 2014

YAADNE (133) यादें (१३३)

सितम्बर १९७९ में ILR सीधी भर्ती प्रतियोगिता परीक्षा बीकानेर में हुई; मैं और गुरजंट सिंह रायसिंहनगर से रात ११ बजे वाली रेलगाड़ी से रवाना हुए , इसका बीकानेर पहुँचने का सुबह ६ बजे था; और हमारी परीक्षा ७.३० से शुरू होनी थी ; उस वक़्त तक बठिंडा से हनुमानगढ़ सूरतगढ़ तक बड़ी लाइन चालू थी पर हनुमानगढ़-श्रीगंगानगर-सुरतगढ़ -बीकानेर-जोधपुर METER-LINE ही थी ; 
हमारी गाड़ी सुबह तकरीबन ८ बजे बीकानेर जंक्शन पहुंची; गनीमत ये की मुझे रास्ता ध्यान था और हम दोनों दौड़ते हुए FORT SCHOOL पहुंचे;   तकरीबन ८.२० पर हम पहुंचे, शुक्र हुआ की संस्था प्रधान ने हमें अन्दर बैठने की इजाज़त दे दी; शायद प्रथम पेपर सामान्य ज्ञान का था; हम दोनों ने ९.३० तक पेपर पूरा कर लिया; यानि कि निर्धारित समय १० बजे से आधा घंटा पहले; बिलकुल श्रीगंगानगर त्रिपुली जैसी कहानी का दोहराव हो गया था;  
जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 16 मार्च 2014

YAADEN (132) यादें (१३२)

ILR की परीक्षा जून 1979 में होनी थी; हम दोनों के प्रवेश पत्र नहीं आये तो हम दोनों CYCLE पर मोहननगर रवाना हुए, समेजा नहर की पटरी पर वही पुराना 25NP स्कूल वाला रास्ता और उससे आगे मोहन नगर रेलवे स्टेशन फिर 22NP पर वहां उपडाकघर में भी हमें डाक की जानकारी नहीं मिली तो हम दोनों ने रायसिंहनगर जाने की ठानी;   रेल की पटरी के साथ १२ किलोमीटर रेतीला रास्ता और जून की दोपहरी; साइकिल चलने का भी रास्ता नहीं; हम दोनों पटरियों के बीच CYCLE को बारी-बारी खींचते हुए 12TK तक पहुंचे; बिश्नोईयों के एक घर में पानी पिया; बाद में गुरजंट मजाक करने लगा-
ਇਹਨਾ ਨੂੰ ਕੀ ਪਤਾ ; ਇਹਨਾਂ ਨੇ ਦੋ ਗਰਦੌਰਾਂ ਨੂੰ ਅਜ ਪਾਣੀ ਪਾਲਾਯਾ ਹੈ; इनको पता नहीं कि इन्होने दो भावी गिरदावरों को पानी पिलाया है;
इस तरह गिरते-पड़ते आखिर हम रायसिंहनगर डाक घर पहुंचे पर वहां भी हमें डाक का पता नहीं चला; और हम वापस अपने गाँव नानुवाला आ गए;

जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 9 मार्च 2014

YAADEN (131) यादें (१३१)

पटवारी बनने के बाद मेरे चयन Bank of India में भी हो गया, किन्तु मैं type-test के लिए नहीं गया; इसी AIR INDIA या शायद किसी और परीक्षा केलिए मैं दिल्ली HAUZ-khas  भी गया  था; 1979 में मैंने और गुरजंट सिंह ने भू-अभिलेख निरीक्षक Inspector of Land Records के लिए आवेदन किया; उस समय मैं राजस्व विभाग के तौर-तरीकों से ज्यादा परिचित नहीं था; मुझे सिर्फ जिलाधीश, उपजिलाधीश, तहसीलदार के बारे में सिर्फ साधारण जानकारी ही थी; बाकी प्रशसनिक व्यवस्था का मुझे  ज्ञान नहीं था; मुझे अच्छी तरह याद है, जब हम दोनों आवेदन जमा करवाने श्रीगंगानगर गये, तो वहां रामकिशन ASQ (सहायक सदर कानूनगो ) ने हमारे FORM जमा किये थे; बाद में रामकिशन जी मेरे अच्छे मित्रों में से रहे हैं; 
मुख्य परीक्षा से पूर्व 2.30 घंटे में 8 मील पैदल चलने की परीक्षा थी;
अप्रैल 1979 की एक सुबह हमें बुलाया गया; गंगासिंह चौक पर हमारी हाजरी दर्ज की गयी और डाल चंद सदर कानूनगो ने हमें त्रिपुली पर पहुँचने को कहा; हम दोनों आराम से चाय पीने बाज़ार चले गये कोई आधा घंटा बाद वापिस आये तो गंगासिंह चौक पर कोई नहीं था; हम दोनों ही उस वक़्त  तक गंगानगर के भूगोल और नामावली से अपरिचित थे; पूछते-पछाते जब तक हम त्रिपुली पहुंचे, सब लोग सधुवाली रवाना हो चुके थे;  लगभग हमें तकरीबन एक घंटे की देरी हो चुकी थी; हम त्रिपुली से Z Minor की पटरी पर पूर्व में साधुवाली को तेज़ क़दमों से रवाना हो गये; रस्ते में दुसरे अभ्यर्थी हमें वापस आते मिले; हमने हिम्मत नहीं हारी, साधुवाली पहुंचकर हाजरी दर्ज करवाई और तेज क़दमों से वापस पलटे ; इस तरह हम सही वक़्त के अन्दर ही वापस त्रिपुली पहुँच गए; 



जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 2 मार्च 2014

YAADEN (130) यादें (१३०)

नहरी पटवारी रहने के दौरान ही मैंने अन्य प्रतियोगी परीक्षाये भी दी; प्रत्येक शुक्रवार को विजयनगर रकम जमा करवाने आना होता था; उस वक़्त राजस्थान पवार संघ के प्रांतीय अध्यक्ष ईश्वरी प्रसाद गौड़ थे; श्री गंगानगर के जिलाध्यक्ष चानणराम थे; सिंचाई उसमें ही शामिल था; विजयनगर सिंचाई (RCP) के अध्यक्ष राजाराम थे; जैतसर उपखंड (गंग-नहर) के अध्यक्ष शंकरलाल जोशी थे; उन्ही दिनों हनुमानगढ़ के एक जिलेदार बिश्नोई जी ने सिंचाई विभाग के पटवारी, जिलेदार व DC (Deputy Collector) को शामिल करते हुए,  राजस्थान भू सिञ्चन सँघ के नाम से अलग संघ गठन किया; जिसमे मुझे संगठन मंत्री के रूप में नामित किया; किन्तु मैंने उसमें रूचि नहीं ली !


जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 23 फ़रवरी 2014

YAADEN (129) यादें (१२९)

4BLD में दर्शन सिंह बराड़, का घर था; उनके बड़े भाई जसवंत सिंह उस समय विश्व खाद्य कार्यक्रम RCP श्रीविजयनगर में परियोजना प्रबंधक (तहसीलदार) थे ; उनके पिता  करतार सिंह और ताया जवाहर सिंह, बड़े सरल, और नेक बुज़ुर्ग थे; मुझ पर उनका काफी स्नेह था; 4BLD चक सीमा में उत्तर-पूर्व में उनकी ४ मुरब्बे की चौकड़ी ठाकरों से खरीद शुदा (100 बीघा= 62.5 एकड़= 25.29 HECTARE ) नहरी थी; जवाहर सिंह जी का लड़का गुरमेल सिंह, मेरा हम उम्र था; ग्राम पंचायत बिलोचिया के सरपंच देवीसिंह राठौड़ 2STB ढाणी में रहते थे; 2STB में ही JUSTICE जवान सिंह राणावत ( राणावत वेतन आयोग, के अध्यक्ष ) और उनके बेटों व परिवार के नाम कुल 14 मुरब्बे =350 बीघा =219 एकड़ = 88.5 Hectare नहरी कृषि भूमि थी; 3STB  कल्याण सिंह, जगमाल सिंह राजावत, 4STB में भालेरी ठाकुर नाहर सिंह (तत्कालीन SDM SRIGANGANAGR /राजवी पैलेस हनुमानगढ़ टाउन ) व उनके परिवार की ज़मीन थी; 4BLD में ही खुड़ी ठाकुर देवीसिंह व उनके परिवार, मालासी ठाकुर और BDO रतनसिंह, 1BLD में लूंछ ठाकुर रघुनाथ सिंह (थानेदार) व उनके परिवार;  की ज़मीने  थीं;  4BLD प्राथमिक  विद्यालय में टहलसिंह अध्यापक थे; विजयनगर और घडसाना तहसीलें नहीं थी ; राजस्व पटवारी मदन लाल लाहोरा उपनिवेशन पटवारी शिवरतन मोदी और कृषि पर्यवेक्षक पूरण चंद , भागीरथ और कृषि विकास अधिकारी  जगदीश नेहरा और गुरबक्श सिंह थे; नौकरी और उम्र  हिसाब से  छोटा मैं ही था;

जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N

रविवार, 16 फ़रवरी 2014

YAADEN (128) यादें (१२८ )

 लेखपाल मंडल 4BLD में चक 1BLD 2BLD 2BLDA 4BLD 2STB 3STB 4STB 5STB थे; जिलेदार कार्यालय में काम करते हुए मुझे यह अच्छी तरह पता चल गया था, कि यह भूत-पूर्व जागीरदारों का इलाका है; जो आदतन सिंचाई शुल्क जमा नहीं करवाते, उनकी देखा-देखी दूसरे लोगों ने भी वैसा ही रवैया अख्तियार कर लिया है; पहले 2STB से 8STB तक एक ही हल्का था जिस पर ओम प्रकाश पटवारी थे; जो स्वाभाव से भी ढीले ही थे, इस हल्के की वसूली औसतन 30-40 प्रतिशत रहती थी;
मैंने मन ही मन चुनौती को स्वीकार किया और जिलेदार जी सोहनसिंह भुप्पल से सलाह करके, उपनिवेशन तहसील विजयनगर से आवंटन सूचियाँ प्राप्त कर ली;  जिन-जिन कृषको के दो या अधिक फसलों की सिंचाई शुल्क जमा नहीं थी उन सबका पानी काट कर, सभी चकों की पक्की वारियां बना दी; और जब पहली बार हल्के में गया,तो ढाणी-ढाणी जाकर,  अपना परिचय देते हुए, वाराबंदी की पर्चियां बाँट दी;  पूरे हल्के में हडकम्प मच गया; मुझे धमकियाँ मिलनी भी शुरू हो गयी;
2BLD में नोखाराम ओड, 1BLD में सुगन सिंह, और रघुनाथसिंह लूंछ ( थानेदार), 3STB में आनंद कँवर, शिमला ठाकर, 5STB  में भैरोसिंह घोटडा, विजयसिंह कातर,  कानसिंह, सब मुझसे जबरदस्त रुष्ट हुए; नोखा राम ओड ने तो कहा- मैं थप्पड़ मार द्यूं तसीलदार नै; तू तो पटवारी है;
आज मुझे लगता है;  मेरे तहसीलदार बनने नोखाराम के शब्द भी कारक हैं;

जयहिंद جیہینڈ  ਜੈਹਿੰਦ 
Ashok 9414094991, Tehsildar ; Sri Vijay Nagar 335704 
http://www.apnykhunja.blogspot.com/  http://www.apnybaat.blogspot.com/;
 http://www.apnyvaani.blogspot.com/;       www.apnykatha.blogspot.com;
 My Location at Globe 73.5178 E; 29.2406 N