रविवार, 10 नवंबर 2013

YAADEN (114) यादें (११४)

सोमवार 3 जनवरी, 1977 को  अधिशाषी अभियंता , पूर्व खण्ड श्री विजय नगर के कार्यालय में उपस्थित हुआ, उस समय इस खंड के अधीन 2 जिलेदार- RD 268 और विजय नगर थे; मुझे और ओमप्रकाश शर्मा (श्री करणपुर ) को RD 268 में ATTACH किया गया; 15 दिन उपखण्ड कार्यालय में,  15 दिन जिलेदार कार्यालय,   और 2 माह FIELD ATTACHMENT पटवारी के साथ, जिलेदार का CHARGE श्री बद्रीराम पटवारी जी के पास था; फ़तेह सिंह, पटेल सिंह, काशीराम, सुखदेव सिंह पटवारी भी इसी जिलेदारी के अधीन थे; हम दोनों को  इच्छा के अनुसार श्री सुखदेव सिंह संधू, पटवारी हल्का सतजंडा  के साथ लगाया गया;
हम दोनों ने पूरी लगन से कम सीखा और किया; ओम करणपुर आता, उसका हमारे घर काफी आना-जाना रहता था, हम साथ-साथ सतजण्डा  आते जाते, मैं भी अक्सर करण पुर आता-जाता रहता था; उसके पिता श्री रामचंद्र शर्मा भी सिंचाई विभाग में मिस्त्री थे; अब यह पद नहीं है; RAIL-LINE और स्कूल के बीच कॉलोनी में ही उनका QUARTER था; अब भी हम दोनों का मिलना-जुलना हो जाता है; 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें